Benaam Sa Yeh Dard Thahar Kyun Nhi Jata

Sad Shayari - Benaam Sa Yeh Dard Thahar Kyun Nhi Jata

बेनाम सा यह दर्द ठहर क्यों नहीं जाता
जो बीत गया है वो गुज़र क्यों नहीं जाता,
वो एक ही चेहरा तोह नहीं सारे जहाँ में
जो दूर है वो दिल से उतर क्यों नहीं जाता.

 

Leave a Comment