Khafa bhi rahte hain aur wafa bhi karte hain

Khafa bhi rahte hain aur wafa bhi karte hain- Hindi shayari, Love shayari, Sad shayari, Romantic shayari

खफा भी रहते हैं और वफ़ा भी करते हैं,
इस तरह वो अपने प्यार को बयां भी करते हैं,
जाने कैसी नाराजगी है हमसे उनकी,
खोना भी चाहते हैं और पाने की दुआ भी करते हैं |

Khafa bhi rahte hain aur wafa bhi karte hain,
Is tarah wo apne pyar ko bayan bhi karte hain,
Jane kaisi narajgi hai humse unki,
Khona bhi chahte hain aur pane ki dua bhi karte hain.

Leave a Comment