Sukhe Patte Ki Tarah Bikhra Hua Tha Main

Love Shayari - Shukhe Patte Ki Tarah Bikhra hua Tha Main..

सूखे पत्ते की तरह बिखरा हुआ था मैं,
तूने बड़े प्यार से समेटा और फिर आग लगा दिया!!!

Leave a Comment