Tere naam se mohabbat ki hai,tere ehsaas se mohabbat ki hai

Tere naam se mohabbat ki hai,tere ehsaas se mohabbat ki hai- Romantic shayari, Hindi shayari

तेरे नाम से मोहब्बत की है, तेरे एहसास से मोहब्बत की है,
तुम पास नहीं हो मेरे फिर भी, तेरी याद से मोहब्बत की है,
कभी तुमने भी मुझे याद किया होगा, मैंने उन लम्हों से मोहब्बत की है,
तुमसे मिलना तो एक ख्वाब सा लगता है, मैंने तुम्हारे इन्तेजार से भी मोहब्बत की है |

Tere naam se mohabbat ki hai,tere ehsaas se mohabbat ki hai,
Tum paas nahi ho mere phir bhi,tumhari yaad se mohabbat ki hai,
Kabhi tumne bhi mujhe yaad kiya hoga, maine un lamhon se mohabbat ki hai,
Tum se milna to ek khwab sa lagta hai, maine tumhare intezar se bhi mohabbat ki hai.

Leave a Comment