Usi ko chaaha usi se pyar hai

Usi ko chaaha usi se pyar hai- Sad shayari

उसी को चाहा उसी से प्यार है,
वो जिंदगी है तो जिंदगी से प्यार है,
वो किसी और की है कोई ग़म नहीं,
क्योंकि मुझे उससे ही नहीं उसकी हर ख़ुशी से प्यार है |

Usi ko chaaha usi se pyar hai,
Wo jindgi hai to jindgi se pyar hai,
Wo kisi aur ki hai koi gham nahi,
Kyunki mujhe usse hi nahi uski har khushi se pyar hai.

Leave a Comment